Vaastu Aastha

छिपकली भगाने के तरीके, कैसे घर से भगाएं छिपकली को? जानिए आसान तरीका

छिपकली भगाने के तरीके – हमारे घरों में छिपकली का होना आम बात है। किचन, बेडरूम, डाइनिंग रूप सभी जगहों पर छिपकली दिख जाती होगी। घर में अधिक छिपकली होने से लोगों को परेशानी होने लगती है। कई बार लोग छिपकली को मार देते हैं। लेकिन छिपकली को मारना नहीं चाहिए। कोशिश करें को छिपकली को घर से भगा दें। आइए जानते हैं छिपकली भगाने के तरीके –

छिपकली भगाने के तरीके – Chhipkali Bhagane ka Tarika

घर से छिपकली को भगाने के लिए काली मिर्च का इस्तेमाल कर सकते हैं। एक बोतल में काली मिर्च का चूर्ण लेकर पानी के साथ मिलाएं और छिपकली आने वाली जगहों पर छिड़क दें। रोजना इस स्प्रे को छिड़कने से छिपकली घर से गायब हो जाएगी।

घर से छिपकलियों को भगाने के लिए अंडे के छिलकों का इस्तेमाल करें। जब भी आप अंडा बनाएं तो बचे हुए छिलकों को फेकें नहीं बल्कि उसे अच्छे से साफ करके रख लें। जहां पर छिपकली रहती है वहां पर अंडे के छिलकों को रख दें। छिपकली खुद-ब-खुद आपके घर में आना बंद कर देगी।

छिपकली को भगाने के लिए प्याज के रस का इस्तेमाल करें। प्जाय के रस के साथ लहसून का रस भी मिलाएं और स्प्रे बोतल में भर लें। इस स्प्रे की गंध से छिपकली घर से बाहर निकल जाएगी। इसके साथ-साथ घर से छिपकली को भगाने के लिए आप प्याज और लहसून के टुकड़ों का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। प्याज और लहसून के टुकड़ों को भी घर के कोनों में रख सकते हैं।

Related Post

अक्सर लोग कपड़ों में कीड़े न लगे इसके लिए नेप्थलीन (फिनाइल की गोली) बॉल्स का इस्तेमाल करतें है। छिपकली को भगाने के लिए नेप्थलीन की गोली का इस्तेमाल करें। इसके इस्तेमाल से घर में छिपकलियाँ नहीं आएंगी।

घर से छिपकली को भगाने के लिए मोरपंख का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। जहां पर भी छिपकली रहती है वहां पर मोरपंख करें। कुछ दिनों के बाद छिपकली आपके घर से गायब हो जाएगी।

Share
Published by
Bihar News Hindi

Recent Posts

WHO ने दी चेतावनी, बेहद खतरनाक है कोरोना का ओमीक्रोन वेरिएंट

कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रोन को लेकर पूरी दुनिया में हहाकार मच गया है। इसको देखते हुए केंद्र सरकार ने…

कार रैली में आशीष वर्धन और ज्योति कुमारी को मिला द्वितीय पुरस्कार

बिहार की राजधानी पटना में रैली फॉर अवेयरनेस थीम पर एक कार रैली का आयोजन किया गया। रैली समन्वयक अमृता…

12 से 14 नवंबर तक बनारस में होगा संस्कृति संसद का आयोजन, संस्कृति समीक्षा एवं सांस्कृतिक दिशा तय करने में मिलेगी मदद

नई दिल्ली। यह अत्यन्त हर्ष का विषय है कि इस वर्ष हमारा देश स्वतन्त्रता की 75वीं वर्षगाँठ मना रहा है।…

This website uses cookies.