बिहार चुनाव – पीएम मोदी से तेजस्वी ने पूछा 11 सवाल, बोले- इस बार विदाई तय

पटना। बिहार विधानसभा चुनाव में प्रचार के लिए भाजपा के स्टार प्रचारकों में पीएम मोदी भी बिहार की जनता से संवाद में जुटे हुए हैं। मंगलवार तीन नवंबर को बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के तहत मतदान होने वाला है। इस बीज सभी राजनीतिक पार्टियाँ जोर-शोर से प्रचार में जुटी है और जुबानी जंग जारी है। बिहार चुनाव को लेकर तेजस्वी यादव ने कई सवाल किये हैं।

इस बीच राजद नेता तेजस्वी यादव ने बिहार चुनाव के दूसरे चरण के मतदान से पहले पीएम मोदी से 11 सवाल पूछे हैं। उन्होंने अपने फेसबुक पोस्ट पर लिखा है कि ‘माननीय प्रधानमंत्री जी आज बिहार दौरे पर आ रहे हैं। चूंकि वो बिहार में चुनावी प्रचार में आ रहे हैं तो बिहारवासियों को आशा ही नहीं पूर्ण विश्वास है कि वो सकारात्मकता के साथ केवल और केवल बिहार और बिहारवासियों के जीवन और बेहतरी से संबंधित ज्वलंत मुद्दों, समस्याओं और उनके कार्यकाल में हुए निवारण पर ही अपनी राय रखेंगे।’

उन्होंने लिखा – मैं माननीय प्रधानमंत्री जी से बिहार की बेहतरी और विकास से जुड़े निम्नलिखित सवाल पूछना चाहता हूँ क्योंकि उनके अधीन नीति आयोग की रिपोर्ट के अनुसार बिहार शिक्षा, स्वास्थ्य के सभी मानकों और सतत विकास सूचकांक में सबसे फिसड्डी राज्य है।

यह भी पढ़ें -   महिला टीचर ने लिखा पीएम मोदी को पत्र, विधायक संजीव चौरसिया पर गंभीर आरोप

1. प्रधानमंत्री जी बताएँ कि नल-जल योजना पर लगातार शोर मचाने वाली बिहार की डबल इंजन सरकार कुल बजट का केवल 4% ही जल आपूर्ति व सैनिटेशन पर क्यों खर्च करती है? और उस 4% का भी 70 फीसदी हिस्सा भ्रष्टाचार की भेंट क्यों चढ़ जाता है?

2. प्रधानमंत्री जी बताएँ कि देश के सबसे गरीब राज्यों में से एक बिहार में कुपोषण व भुखमरी पर कुल बजट का 2% से भी कम क्यों खर्च होता है? 15 वर्ष से एनडीए सरकार रहने के बावजूद भी बिहार में कुपोषण व भुखमरी क्यों है?

3. प्रधानमंत्री जी बताएँ कि बिहार के युवाओं को PHD, Engineering, MBA, MCA करने के बाद भी चपरासी और माली बनने के लिए फॉर्म क्यों भरना पड़ता है?

4. प्रधानमंत्री जी बताएँ कि बिहार बेरोजगारी का केंद्र क्यों है और बिहार में ड़बल इंजन सरकार में रिकॉर्ड तोड़ बेरोजगारी दर 46.6% क्यों है?

यह भी पढ़ें -   जीतनराम मांझी ने चिराग को बताया RJD का एजेंट, रामविलास पर कही बड़ी बात

5. प्रधानमंत्री जी बताएँ कि जून में उनके द्वारा घोषित गरीब कल्याण रोजगार अभियान का लाभ लॉकडाउन में बिहार लौटे श्रमवीरों को क्यों नहीं मिला? क्यों बिहार के श्रमवीर वापस दूसरे राज्य पलायन करने को मजबूर हुए?

6. प्रधानमंत्री जी बताएँ मनरेगा योजना के अंतर्गत करवाए गए कार्यों का भुगतान श्रमवीरों को पिछले 4 महीने से क्यों नहीं किया गया है? कौन दोषी है- केंद्र या राज्य?

7. प्रधानमंत्री जी बताएँ कि गरीब कल्याण रोजगार अभियान के अंतर्गत बिहार के सर्वाधिक जिलों (84% अथवा 32 जिलों) को डालने के बावजूद भी बिहार के श्रमवीरों की सबसे दयनीय दशा क्यों है?

8. प्रधानमंत्री जी बताएँ कि अप्रैल से अगस्त के बीच कुल 11 लाख परिवारों को जॉब कार्ड जारी किए जाने के बावजूद बिहार में केवल 2,132 परिवार ही 100 कार्य दिवस पूरी कर पाए? ऐसा क्यों?

9. प्रधानमंत्री जी बताएँ कि एनडीए की नीतीश सरकार अपने कुल बजट का केवल 2% ही महादलितों पर क्यों खर्च करती है?

यह भी पढ़ें -   अनंत सिंह को RJD ने दिया टिकट, मोकामा में जदयू प्रत्याशी से होगा मुकाबला

10. प्रधानमंत्री जी बताएँ कि 2015 में उनके द्वारा घोषित 1 लाख 65 हजार करोड़ के विशेष पैकेज की कितनी राशि बिहार को प्राप्त हुई और उसका कितना प्रतिशत विकास कार्यों पर खर्च हुआ? अगर पूर्ण राशि जारी नहीं हुई तो उसका जिम्मेवार कौन?

11. प्रधानमंत्री जी बताएँ कि ड़बल इंजन सरकार होने के बावजूद भी 2014 में किए गए उनके वादानुसार अभी तक बिहार को विशेष राज्य का दर्जा क्यों नहीं मिला है?

जनता इस बार नीतीश कुमार को रिटायर कर देगी

तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि नीतीश कुमार जी ने एक फरमान जारी किया है जिसमें सरकारी कर्मचारियों को 50 साल की उम्र में रिटायरमेंट देने की बात कही गई है। खुद 70 साल से ज्यादा के हो गए हैं, लेकिन इस बार जनता उन्हें रिटायर करने जा रही है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार बनेगी तो रिटायरमेंट की उम्र को बढ़ाएंगे।

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.

fourteen + 14 =