संस्कार भारती, बिहार प्रदेश की साधारण सभा हुई आयोजित, सांस्कृतिक समूह का हुआ गठन

0
64

हरिओम कुमार, पटना। बीते रविवार को संस्कार भारती, बिहार प्रदेश की साधारण सभा का आयोजन भारतीय नृत्य कला मंदिर, पटना में हुआ। इसमें पूरे प्रदेश से संस्था के सदस्यों और सैंकड़ों कलाकारों ने भाग लिया। सभा में बिहार प्रदेश के दोनों प्रान्त से गैर कार्यरत्त क्षेत्रों में जिलावार संयोजकों की नियुक्ति की गई।

दोनों प्रांतों में दक्षिण बिहार प्रांत के अध्यक्ष का दायित्व सुप्रसिद्ध लोक गायक एवम कलाकार भरत शर्मा ‘व्यास’ को दिया गया वहीं महामंत्री का दायित्व संजय पोद्दार एवं सह-महामंत्री का दायित्व सुदीपा बोस को दिया गया।

संस्कार भारती

उत्तर बिहार प्रांत की अध्यक्षा का दायित्व प्रसिद्ध गायिका डॉ. रंजना झा को दिया गया, वहीं महामंत्री का दायित्व सुरभीत दत्ता एवं कोषाध्यक्ष का दायित्व भृगु जी को दिया गया।

यह भी पढ़ें -   काशी के सन्तों ने राष्ट्रवादी सरकार की पुन: वापसी का आह्वान किया, केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी थे मौजूद

आमसभा में भाषा एवं लोक-संस्कृति के आधार पर पाँच सांस्कृतिक समूहों का भी गठन किया गया। जिसमें मिथिला, भोजपुरी, बज्जिका, अंगिका एवं मगही के विकास के लिए इन समूहों के संयोजक क्रमशः राकेश झा, जलज कुमार अनुपम, गणेश प्रसाद राय, कौशल किशोर पाठक एवं राकेश कुमार तिवारी के साथ उनकी टीम का भी गठन हुआ। साथ ही प्रचार-प्रसार के लिए एक मीडिया समूह का भी गठन हुआ जिसके संयोजक सर्वेश तिवारी ‘श्रीमुख’ को बनाया गया।

संस्कार भारती के संस्थापक पद्मश्री बाबा योगेंद्र जी ने अपने अनुभव एवं प्रसंगों से युवाओं को कला- संस्कृति एवं लोक कलाओं का सही अर्थ समझाते हुए लोक कलाओं के प्रति उनका नजरिया ही बदल डाला।

यह भी पढ़ें -   अभाविप केंद्रीय विश्वविद्यालय ईकाई का पुनर्गठन, मंगल बने अध्यक्ष व आशीष उपाध्यक्ष

संस्कार भारती

इस अवसर पर बिहार प्रदेश के संगठन मंत्री वेद प्रकाश ने कहा कि संस्कार भारती, बिहार सभी को साथ लेकर सांस्कृतिक गौरव बोध को आगे बढाएगी।

कार्यक्रम का मंच संचालन संजय कुमार चौधरी के द्वारा किया गया। कार्यक्रम के समापन में संस्कार भारती के अखिल भारतीय महामंत्री अमीरचंद जी को भजन संध्या के साथ श्रद्धांजलि दिया गया। मौके पर बिहार के कला-संस्कृति मंत्री डॉ. आलोक रंजन झा, फ़िल्म अभिनेता विजय कुमार, प्रसिद्ध रंगकर्मी संजय उपाध्याय एवं अन्य सैकड़ो कलाकारों की सहभागिता रही।