तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार को चेताया, संभल जाइए नहीं तो स्थिति भयावह होंगे

पटना। बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते हालात पर चिंता व्यक्त करते हुए राजद नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार के सवाल खड़ा किया है। तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार में अगले 2 से 3 महीने में लाखों मरीज होंगे।

बता दें कि बिहार में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी के साथ बढ़ रहा है। राजधानी पटना और बिहार के अन्य प्रमुख जिलों में यह तेजी के साथ फैल रहा है। तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि पिछले 5 महीनों में बिहार सरकार की उदासीनता, लापरवाही और अकर्मण्यता के कारण हालात बिगड़ गए हैं।

यह भी पढ़ें -   केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का निधन, 74 साल की उम्र में अंतिम सांस ली

तेजस्वी यादव ने कहा है कि कोरोना महामारी ने 15 वर्षों के छद्म सुशासनी विकास की परतें और वास्तविक तथ्यों को उजागर कर रख दिया है। पिछले पंद्रह वर्षों में चरमरायी स्वास्थ्य व्यवस्था ने खुद अपना सच बताना शुरू कर दिया है। नीति आयोग, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (NHM), यूनिसेफ़ (UNICEF) इत्यादि संस्थानों के मूल्यांकन में बिहार लगातार फिसड्डी और अंतिम पायदान पर रहा है।

उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने बदहाल स्वास्थ्य व्यवस्था पर बिहार सरकार को कई बार फटकार लगायी है। केंद्र से आई तीन सदस्यीय टीम ने बिहार सरकार की सारी पोल खोल दी। कोरोना से लड़ने के लिए बिहार सरकार ने कोई प्रबंधन नहीं किया चाहे प्रवासी मजदूरों का मसला हो या बदहाल स्वास्थ्य अधिसंरचना के मुद्दे पर सरकार ने कोई उपाय करने की बजाय सबकुछ भगवान भरोसे छोड़ दिया।

यह भी पढ़ें -   Budget 2021 पर बोले तेजस्वी, यह बजट सरकारी संपत्तियों को बेचने की सेल

तेजस्वी यादव ने बिहार में स्वास्थ्य विभाग की कार्यशैली पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि पूरा देश इस बात को समझ पाने में असमर्थ है कि 5 महीनों बाद भी बिहार में जाँच के नाम पर खानापूर्ती क्यों हो रही है? उन्होंने सरकार से आग्रह किया कि बिहार सरकार जल्द से जल्द जन स्वास्थ्य को प्राथमिकता दे।

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.

17 − fourteen =