दहेज-प्रथा और बाल-विवाह उन्मूलन हेतु, बेगुसराय अनुमंण्डल कार्यबल की बैठक सम्पन्न

समाजकल्याण विभाग, सेव द चिल्ड्रेन एवं यूनिसेफ के संयुक्त तत्वावधान में संचालित दहेज और बल विवाह उन्मूलन अभियान के तहत अनुमंण्डल कार्यबल की समिकक्षा बैठक अनुमंण्डल पदाधिकारी के कार्यालय प्रकोष्ठ में सम्पन्न हुई जिसकी अध्यक्षता अनुमंण्डल पदाधिकारी सह बाल विवाह निषेध पदाधिकारी श्री राम अनुज प्रसाद सिंह ने किया।

0
79
दहेज-प्रथा और बाल-विवाह उन्मूलन
दहेज-प्रथा और बाल-विवाह उन्मूलन

हरिओम कुमार। आज दिनांक 22.12.2020 को समाजकल्याण विभाग, सेव द चिल्ड्रेन एवं यूनिसेफ के संयुक्त तत्वावधान में संचालित दहेज और बल विवाह उन्मूलन अभियान के तहत अनुमंण्डल कार्यबल की समिकक्षा बैठक अनुमंण्डल पदाधिकारी के कार्यालय प्रकोष्ठ में सम्पन्न हुई जिसकी अध्यक्षता अनुमंण्डल पदाधिकारी सह बाल विवाह निषेध पदाधिकारी श्री राम अनुज प्रसाद सिंह ने किया।

उन्होंने इस सामाजिक बुराई को जड़ से समाप्त करने की आवश्यकत बताई और कहा कि इसके लिए अधिकारियों से लेकर समाज के हर वर्ग को मिलकर साझा प्रयास करना होगा। अपने संबोधन में उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि हर हालत में बाल विवाह की घटनाओं को रोकना होगा। इसके लिए आपसी समन्वय के साथ, सूचना तंत्र को मजबूत करना होगा। इसके लिए सभी महाविद्यालय में जागरूकता कार्यक्रम चलाने का निर्देश दिया।

यह भी पढ़ें -   मुजफ्फरपुर शिक्षक नियोजन में डीपीओ पर छात्रों ने लगाया धांधली का आरोप, नियोजन रद्द करने मांग उठी

इसके साथ ही इस बात पर भी जोर दिया कि सभी विद्यालयों में सूचना सह सुझाव पट भी लगाया जाए जिससे, स-समय वांछित और अवांक्षित सूचना प्राप्त हो सके। अगर कोई भी व्यक्ति बाल विवाह की घटना को बढ़ावा देने, बाल विवाह करने कराने में संलिप्त पाए जाएंगे तो उनके विरूद्ध, प्रावधानों के अनुसार कठोर करवाई की जाएगी।

अभियान के तहत प्रखंड से ग्राम पंचायत स्तर तक के सभी टास्कफोर्स की बैठकों के नियमित आयोजन सुनिश्चित करने का निर्देश दिए गए।
वहीं जिला समन्वयक ‘सेव द चिल्ड्रेन/यूनिसेफ’ शिव शंकर पाठक ने बाल विवाह से संबंधित कानूनी प्रवधानों एवं अनुमंडल अंतर्गत अबतक किये गए कार्यो के बारे में जानकारी दिए। साथ ही उन्होंने बाल विवाह से सम्बंधित एनएफएचएस की रिपार्ट के बारे में जानकारी दिया, जिसपर उपस्थित सभी सदस्यों ने बाल विवाह के क्षेत्र में, जिला की स्थितियों को रखा। उपस्थित लोगों ने डाटा संबंधित कुछ बिंदुओं पर असहमति प्रकट किया।

यह भी पढ़ें -   बिहार में कोरोना से 9 लोगों की मौत, कुल आंकड़ा पहुंचा 610

उपस्थित श्री गोपाल कुमार अधिवक्ता सह अध्यक्ष मानव कल्याण कारी समिति एवं अशोक कुमार अधिवक्ता सह संयुक्त सचिव मानव कल्याणकारी समिति ने भी सभी स्तरों पर जागरूकता अभियान चलाने का सुझाव दिए। दिए गए सुझावों का समर्थन अन्य सदस्यों ने दिया।
बैठक में उपस्थित जिला शिक्षा पदाधिकारी श्री रजनीकांत प्रवीण, अनुमंण्डल पुलिस पदाधिकारी, सभी इंटर स्तरीय महाविद्यालय के प्राचार्य अनुमंण्डल अंतर्गत, दिलीप कुमार सिन्हा समाजसेवी,के अलावा प्रखंड समन्यवक धर्मेंद्र कुमार,एवं मनोज कुमार निराला (बखरी & साहेबपुर कमाल प्रखंड समन्वयक) मौजूद रहे।