कोरोना जांच में तेजी के लिए बिहार स्वास्थ्य विभाग ने खरीदा 15 लाख से अधिक किट

0
29
कोरोना जांच
बिहार में कोरोना जांच

पटना। बिहार में कोरोना जांच में तेजी लाने के लिए बिहार स्वास्थ्य विभाग ने कमर कस ली है। बिहार सरकार ने कोरोना जांच के लिए 15 लाख से अधिक किट मंगाए हैं। राज्य में लगातार बढ़ रहे कोरोना मरीजों की संख्या के बीच बिहार राज्य स्वास्थ्य विभाग ने 15.5 लाख एंटीजन किट खरीदा है। इससे राज्य में कोरोना जांच में तेजी आएगी।

एंटीजन किट के बारे में स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि लगातार कोरोना जांच में बढ़ोतरी हो रही है। जांच के लिए एंटीजन किट समेत जांच के बाकी माध्यमों से भई जांच की संख्या बढ़ाई जा रही है। अब हर दिन एक लाख कोरोना सैंपल का लक्ष्य रखा गया है।

यह भी पढ़ें -   बेगुसराय के तेघड़ा प्रखंड में जिला का सबसे पहला प्रखंड स्तरीय बाल संरक्षण समिति गठन

बता दें कि बिहार में कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार बढ़ने के बाद से ही राज्य सरकार ने दोबारा राज्य में लॉकडाउन लागू किया हुआ है। बताया जा रहा है कि ट्रू नेट मशीन की 32 हजार कन्फॉर्मेटरी किट भी मंगाये गये हैं।

ट्रू नेट मशीन से जांच के बाद कोरोना के निगेटिव मरीजों की पहचान की जा सकेगी। इनमें जो मरीज पॉजिटिव आते हैं उनकी जांच आरटीपीसीआर मशीन से कोरोनावायरस की जांच कर उसकी पुष्टि की जाती है।

पीएम मोदी ने टेस्टिंग बढ़ाने का दिया सुझाव

बता दें कि तीन दिन पहले पीएम नरेंद्र मोदी ने बिहार के सीएम समेत कई राज्यों के सीएम से कोरोना संकट पर बात किया। इस दौरान पीएम ने कहा था कि बिहार समेत कई राज्यों को टेस्टिंग बढ़ाने की जरूरत है।

यह भी पढ़ें -   बिहार बाढ़ पीड़ितों के लिए युग संस्कृति ट्रस्ट द्वारा बांटा जा रहा है राहत सामग्री

पीएम मोदी ने कहा था कि 80 प्रतिशत एक्टिव केस सिर्फ 10 राज्यों से आ रहे है। सभी राज्य कोरोना संकट में केंद्र सरकार के साथ मिलकर काम करें। अब हॉस्पिटल और डॉक्टरों पर दवाब बढ़ गया है।