रक्षागृह मामले में संज्ञान लेकर हाईकोर्ट ने महिलाओं की सम्मान की रक्षा की है- माया श्रीवास्तव

समर्थ नारी समर्थ भारत की राष्ट्रीय संयोजिका माया श्रीवास्तव ने कहा कि महिला रक्षागृह मामले में संज्ञान लेकर सरकार के बजाय हाईकोर्ट ने महिलाओं के सम्मान की रक्षा की है। इसके लिये हाईकोर्ट बधाई के पात्र हैं। सरकार एक तरफ इस मामले में रक्षागृह के अधिकारियों को बचाने की कार्रवाई में लगी है।

0
33
माया श्रीवास्तव

समर्थ नारी समर्थ भारत की राष्ट्रीय संयोजिका माया श्रीवास्तव ने कहा कि महिला रक्षागृह मामले में संज्ञान लेकर सरकार के बजाय हाईकोर्ट ने महिलाओं के सम्मान की रक्षा की है। इसके लिये हाईकोर्ट बधाई के पात्र हैं। सरकार एक तरफ इस मामले में रक्षागृह के अधिकारियों को बचाने की कार्रवाई में लगी है।

उन्होंने कहा कि जिस बन्दना गुप्ता पर नवादा में आरोप लगा, उसपर कार्रवाई करने के बजाय सम्मानित कर सरकार ने बचाने का ही काम किया है। सरकार अगर कोर्ट के निर्देशानुसार कार्रवाई कर दोषियों को सजा नहीं दिलायी तो संगठन सड़क पर उतरने के लिये मजबूर होगी।

यह भी पढ़ें -   स्वराज और हिंदी विषय पर आलेख प्रतियोगिता का होगा आयोजन, विजेता को मिलेगा 5100 रुपए का इनाम
माया श्रीवास्तव
माया श्रीवास्तव महिला कार्यकर्ताओं के साथ

श्रीमती श्रीवास्तव आज पुनाईचक में पटना महानगर की अध्यक्ष पुष्पा कुमारी की अध्यक्षता में आयोजित बैठक को सम्बोधित कर रही थीं। बैठक को सम्बोधित करते हुए संगठन की प्रदेश अध्यक्ष पुष्पा पाठक ने रक्षागृह मामले में महानगर अध्यक्ष को तुरन्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया है।

बैठक में राज्य में बढ़ रहे महिलाओं के साथ बलात्कार की घटनाओं पर चिंता व्यक्त करते हुए सरकार से अबिलम्ब इस दिशा में कठोर कार्रवाई करने की मांग की गई।

इस अवसर पर बैठक में आशियाना नगर संयोजिका किरण शरण, अनामिका सिंह, सुनीता देवी, किरण ठाकुर, अनिता मिश्रा, सीता देवी, स्मिता सिन्हा, डॉ अनिता सिन्हा, रीना सिन्हा, वीना गुप्ता, लीला देवी, प्रियाचंदनी, मीरा यादव, गोमती देवी आदि महिलाएं उपस्थित थीं।

यह भी पढ़ें -   बिहार के पूर्व सांसद पप्पू यादव पटना से गिरफ्तार, लॉकडाउन उल्लंघन का लगा आरोप