शक्ति मलिक हत्याकांड: मांफी मांगे BJP JDU, नहीं तो मानहानि का केस करेंगे- तेजस्वी

0
73
शक्ति मलिक हत्याकांड
राजद नेता तेजस्वी यादव

पटना। शक्ति मलिक हत्याकांड मामले में नया मोड़ सामने आया है। राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा है कि बीजेपी और नीतीश कुमार इसके लिए माफी मांगे नहीं तो उनपर मानहानि का केस करेंगे। उन्होंने कहा कि यह कोई मामूली आरोप नहीं है। वायरल वीडियो के बारे में तेजस्वी ने कहा कि 50 लाख रुपए मांगने का जो वीडियो वायरल हुआ है उससे मेरा कोई लेना-देना नहीं है।

तेजस्वी यादव ने सवाल किया कि शक्ति मलिक की पत्नी पर मेरा और मेरे भाई तेजप्रताप यादव केस दर्ज करवाने के लिए किसने दवाब बनाया था। हमलोग बिहार में विकास के लिए काम करना चाहते हैं, लेकिन नीतीश कुमार चरित्रहनन का काम कर रहे हैं। तेजस्वी यादव ने कहा कि नीतीश कुमार को माफी मांगना चाहिए।

यह भी पढ़ें -   Junior Doctors on Strike: बिहार में जूनियर डॉक्टर हड़ताल पर, स्वास्थ्य सेवा चरमराई

तेजस्वी यादव ने कहा कि एसपी के प्रेस कॉफ्रेंस में आरोपियों ने कबूल किया है कि मेरा इससे और इस हत्याकांड से कोई लेना-देना नहीं है। आप मुझसे इतना डर गए हैं कि मेरे ऊपर आरोप लगवा रहे हैं। कई तरह के आरोप अपने प्रवक्ता से लगवाए हैं।

सीएम नीतीश कुमार इसको लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस करे और मुझसे माफी मांगे। मैं ठेठ बिहारी हूं, जो कहता हूं उसे कर दिखाता हूं। बेरोजगारी के मुद्दे पर सीएम कोई बात नहीं करते। सिर्फ अपने प्रवक्ता से मुझपर आरोप लगवाते हैं।

मेरा नाम षड्यंत्र के तहत लिया गया – तेजस्वी

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि इस हत्याकांड में मेरा नाम राजनीतिक षड्यंत्र के तहत लिया गया है। इस घटना से मेरा कोई लेना-देना नहीं है। मैंने पहले ही इस घटना को लेकर सीबीआई जांच की मांग की है। तेजस्वी यादव ने कहा कि पिछली सरकार में 18 महीनों के कार्यकाल में एक भी आरोप नहीं लगा। राजनीति में मेरा आने का मकसद सेवा करना था।

उन्होंने कहा कि इस केस में मेरा नाम आया। मेरे ऊपर केस दर्ज दर्ज हुआ था। केस में नाम आने से मैं चिंतित था। डर इसलिए था कि मैं साफ सुथरा राजनीति करना चाहता था। बता दें कि शक्ति मलिक हत्याकांड में उनकी पत्नी की तरफ से तेजस्वी यादव और तेजप्रताप यादव पर केस दर्ज करवाया गया था।