बिहार में चुनाव होगा तय समय पर, चुनाव आयोग महामारी में चुनाव कराने को तैयार

2
70
बिहार में चुनाव
बिहार में विधानसभा चुनाव

पटना। बिहार में चुनाव को लेकर चुनाव आयोग ने फिर से साफ किया है कि बिहार में चुनाव तय समय पर ही होगा। मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि कोरोना महामारी को ध्यान में रखते हुए चुनाव से संबंधित तैयारियाँ की जा रही है। चुनाव आयोग ने कोरोना को देखते हुए चुनाव को स्थगित करने की मांग को खारिज कर दिया है।

चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने एक टेलीविजन चैनल से बात करते हुए कहा कि चुनाव आयोग बिहार विधानसभा चुनाव को समय पर कराने की तैयारी कर रहा है। आयोग कोरोना संक्रमण को लेकर भी सारे एहतियात बरत रहा है। महामारी से बचाव को लेकर सारे प्रबंध किये जायेंगे, लेकिन विधानसभा चुनाव समय पर ही कराने का फैसला लिया गया है।

यह भी पढ़ें -   बिहार के पूर्व सांसद पप्पू यादव पटना से गिरफ्तार, लॉकडाउन उल्लंघन का लगा आरोप

आरजेडी और एलजेपी ने की थी चुनाव खारिज करने की मांग

दरअसल बिहार से सबसे बड़ी पार्टी आरजेडी और केंद्र में बीजेपी की सहयोगी पार्टी एलजेपी ने कोरोना महामारी के मद्देनजर बिहार विधानसभा चुनाव को स्थगित करने की मांग की थी। लोक जनशक्ति पार्टी ने चुनाव आयोग को पत्र लिख कर कहा था कि बिहार में इस वक्त चुनाव कराना लाखों-करोड़ों लोग की जान को खतरे में डालना होगा।

विधानसभा चुनाव पर अपना मत रखते हुए आरजेडी ने चुनाव में पारंपरिक तरीके से प्रचार करने की इजाजत मांगी है। आरजेडी ने कहा है कि अगर उन्हें जनता के बीच जाकर प्रचार करने की इजाजत नहीं मिली तो वे चुनाव का बहिष्कार करेंगे। उधर कांग्रेस ने भी ऐसी ही मांग की है।

यह भी पढ़ें -   Bihar Assembly Election: चुनाव का डेट जारी, जानें कैसा होगा चुनाव

हालांकि इन सबसे की बीच चुनाव आयोग ने बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर बिहार के सभी राजनीतिक पार्टियों से राय मांगी है। सुझाव देने का अंतिम समय 11 अगस्त तक है। 11 अगस्त तक राजनीतिक पार्टियाँ विधानसभा चुनाव को लेकर अपनी राय रख सकती हैं।

बता दें कि पिछली विधानसभा चुनाव में जदयू और राजद साथ मिलकर चुनाव लड़ी थी। हालांकि यह सरकार बीच में पार्टियों में बिखराव के चलते गिर गई थी।