सुधीर कुमार उर्फ बंटी को सिकंदरा सीट से कांग्रेस ने दिया टिकट, पिछली बार भी जीते थे

0
21
सुधीर कुमार उर्फ बंटी
सुधीर कुमार उर्फ बंटी चौधरी

पटना। बिहार विधानसभा चुनाव में सभी दल अपनी सीटों पर उम्मीदवारों के नाम की घोषणा कर रहे हैं। कांग्रेस ने बिहार चुनाव को लेकर अपने प्रत्याशियों का नाम तय कर लिया है। पार्टी ने कई उम्मीदवारों को सिंबल भी दे दिया है। इसी कड़ी में कांग्रेस पार्टी ने सिकंदरा विधानसभा सीट से युवा विधायक सुधीर कुमार उर्फ बंटी चौधरी को टिकट दिया है।

बंटी चौधरी को कांग्रेस के विधानमंडल दल के नेता सदानंद सिंह ने मंगलवार को पार्टी का सिंबल दिया। बुधवार को बंटी चौधरी इस सीट पर अपना नामांकन कर सकते हैं। पिछली बार भी सुधीर कुमार भारी मतों से इस सीट पर विजयी हुए थे। 2015 के चुनाव में यह सीट कांग्रेस के खाते में चली गई थी।

यह भी पढ़ें -   जीतन राम मांझी ने लालू यादव को बताया दलित विरोधी, मिला ऐसा जवाब

2015 भारी मतों से हुए थे विजयी

सिकंदरा विधानसभा सीट से बंटी चौधरी उर्फ सुधीर कुमार ने 7990 मतों के भारी अंतर से जीत दर्ज की थी। बता दें कि सिकंदरा विधानसभा सीट में जैन धर्म के 24वें तीर्थंकर भगवान महावीर का जन्म हुआ था। जैन धर्म के अनुयायियों के लिये यह क्षेत्र प्रवित्र माना जाता है।

2015 में हुए विधानसभा चुनाव में बंटी चौधरी ने कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ा था। बंटी चौधरी ने 7990 वोटों के भारी अंतर से लोजपा के सुभाष चंद्र बोष को हराया था। बंटी चौधरी उर्फ सुधीर कुमार को 59092 वोट मिले थे, जबकि सुभाष चंद्र को 51102 वोट मिले थे।

यह भी पढ़ें -   सांसद पप्पू यादव को लेकर आई बड़ी खबर, मधेपुरा से लड़ सकते हैं चुनाव

सिकंदरा विधानसभा सीट जमुई जिले में पड़ता है। यह सीट अनुसूचित जाति के लिए सुरक्षित है। यहां पर भगवान महावीर की जन्मस्थली होने के कारण सालों भर जैन धर्म के तीर्थयात्री भगवान महावीर की आराधना करने आते हैं।

2015 में चुनाव आयोग के दिए हलफनामें में बंटी चौधरी एक पेट्रोल पम्प के मालिक हैं। उन्होंने ग्रेजुएशन तक पढ़ाई की है। वह एक अच्छे छवि वाले नेता माने जाते हैं। उनके ऊपर किसी भी तरह का कोई आपराधिक मामला या मुकदमा दर्ज नहीं है। उनके पास 19 लाख रुपए की संपत्ति है।

यह भी पढ़ें -   भाजपा उम्मीदवार के खिलाफ एफआईआर दर्ज, लोजपा, आरजेडी उम्मीदवार भी फंसे