चिराग पासवान कालिदास हैं, जिस डाल पर बैठते हैं उसी को काटते हैं – जदयू

0
23
चिराग पासवान
नीतीश कुमार और चिराग पासवान

पटना। बिहार में विधानसभा सभा चुनाव का खुमार चढ़ने लगा है। एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान की तरफ से बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को लगातार घेरे जाने से जदयू नाराज हो गया है। इसी नाराजगी में जदयू ने चिराग पासवान को कालिदास की संज्ञा दे दी है। जदयू नेता ललन सिंह ने कहा कि चिराग पासवान कालिदास हैं, जिस डाल पर बैठते हैं उसी को काटते हैं।

ललन सिंह ने कहा कि जमीनी स्तर की हकीकत कुछ और है, लेकिन उनकी (चिराग पासवान की) समझ कुछ और है। सरकार की खामियों को उजागर करने के संबंध में उन्होंने कहा कि यह अच्छी बात है अगर आप विपक्ष की भूमिका निभा रहे हैं।

यह भी पढ़ें -   बिहार कांग्रेस देगी युवाओं को मौका, यूथ कांग्रेस के 60वें स्थापना दिवस पर हुई घोषणा

उन्होंने कहा कि एक कहावत है ना निंदक नियरे राखिए, आंगन कुटी छबाई। तो निंदक जितनी नजदीक रहे बेहतर है। नीतीश कुमार जी उनपर ध्यान नहीं देते हैं, वो केवल अपना काम करते हैं।

दूसरी तरफ इन सब सवालों और जबावों के बीच केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान की चुप्पी पर उन्होंने सवाल उठाया। ललन सिंह ने कहा कि वो क्यों चुप हैं, वो उनसे पूछिये। हर आदमी के सोचने का तरीका अलग है। कुछ लोग कालिदास होते हैं, जिस डाली और बैठते हैं उसे काटते हैं। मुझे ज्यादा कुछ नहीं कहना है। उन्हें जो सही लगता है करने और कहने दीजिये।

यह भी पढ़ें -   बिहार STET की 12 जिलों में होगी परीक्षा, नियम और परीक्षा केंद्र जानिए

बता दें कि बिहार में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी के साथ फैल रहा है। राजधानी पटना में कोरोना के सबसे ज्यादा मरीज हैं। हालांकि चुनाव आयोग ने कहा कि बिहार में चुनाव तय समय पर होंगे। चुनाव आयोग इस संबंध में अपनी तैयारियाँ भी कर रही है।

कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए पिछले दिनों राज्य की सबसे बड़ी पार्टी राजद ने चुनाव आयोग से चुनाव टालने की मांग की थी। राजद के साथ कांग्रेस और अन्य पार्टियों ने भी यही मांग की थी। हालांकि चुनाव आयोग ने उनकी मांगों को खारिज कर दिया और कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव तय समय पर ही सम्पन्न कराए जाएंगे।

यह भी पढ़ें -   तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश से पूछे तीखे सवाल, पढ़िए क्या-क्या पूछा?